Sunday 23 September 2007

लागा चुनरी में दाग.......

मैंने अपने पिछले ब्लोगों में भी कहा है कि मीडिया ने अपना बेरा गरक कर लिया है,
भारत में यह पहली बार हुआ है कि किसी न्यूज़ चैनल पर रोक लगा हो, दुसरी ओर एक और न्यूज़ चैनल के वरिस्थ अधिकारीयों को पुलिस ने एक यसे आरोप में पकड़ा है जो मीडिया जगत का एक काला चेहरा है.....
किसी कि निजी जिन्दगी में ताक़ झाक करने वाले मीडिया ने अपनी ही इतनी बड़ी खबर को खबर नहीं बनाई....
पब्लिक सब देख रही है और समझ भी रही है??
मीडिया में घट रही इन घटनाओं से दर्शकों के बीच यह संदेश जा रह है कि मीडिया में भी वोह सभी बुराईयां मौजूद हैं जो ज़्यादातर जगहों पर देखने को मिलती है.....
जिन चैनलों पर इतना बड़ा बदनुमा दाग लगा है अब वह जनता के बीच क्या मुँह लेकर जायेंगे....और मान लीजिये कि वह बेशर्म कि तरह अपना मुँह लेकर वहाँ पहुंच भी गयी तो वह तो बस यही गाएंगे.....लागा चुनरी में दाग छुपाऊ कैसे???????

1 comment:

deepanjali said...

आपका ब्लोग बहुत अच्छा लगा.
ऎसेही लिखेते रहिये.
क्यों न आप अपना ब्लोग ब्लोगअड्डा में शामिल कर के अपने विचार ऒंर लोगों तक पहुंचाते.
जो हमे अच्छा लगे.
वो सबको पता चले.
ऎसा छोटासा प्रयास है.
हमारे इस प्रयास में.
आप भी शामिल हो जाइयॆ.
एक बार ब्लोग अड्डा में आके देखिये.